राजकीय सम्मान के साथ हुई अरुण जेटली की अंत्येष्टि

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त व रक्षामंत्री अरुण जेटली का रविवार को दिल्ली के निगमबोध घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जा रहा है। इस मौके पर गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत बीजेपी के तमाम बड़े नेता निगमबोध घाट पर मौजूद हैं। 

गौरतलब हो कि पूर्व वित्तमंत्री जेटली का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में अरुण जेटली का निधन हो गया था। वह 66 साल के थे। उनके निधन से देश के राजनीतिक जगत में शोक की लहर है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि जेटली के निधन ने बौद्धिक पारिस्थितिकी तंत्र में एक बहुत बड़ा शून्य छोड़ दिया है। उन्होंने कहा, "श्री अरुण जेटली जी का लंबी बीमारी के बाद निधन होने से काफी दुखी हूं। वह एक शानदार वकील, एक अनुभवी सांसद और एक प्रतिष्ठित मंत्री थे। उन्होंने राष्ट्र निर्माण में बहुत बड़ा योगदान दिया।" उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने उनके निधन को राष्ट्र के लिए अपूरणीय क्षति बताया।

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने एक मूल्यवान दोस्त खो दिया है और भाजपा व जेटली का एक अटूट रिश्ता था।अमेरिका, फ्रांस, चीन और जर्मनी के राजदूतों ने भी जेटली के निधन पर शोक जताया।