2,668 कोरोना नमूनों की जांच में 48 संक्रमित, लखनऊ में 22 नए मरीज

लखनऊः प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रसार जारी है। राजधानी की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में सोमवार को जांच किये गए 2,668 नमूनों में 48 की रिपोर्ट मंगलवार को पॉजिटिव आई।

इनमें लखनऊ के 22, संभल व मुरादाबाद के 07-07,हरदोई के 06, शाहजहांपुर के 04 व फर्रुखाबाद के 02 मरीज शामिल हैं। इसके अलावा अन्य प्रयोगशालाओं की रिपोर्ट में भी लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। 

सिद्धार्थनगर की मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सीमा राय के मुताबिक जनपद में मंगलवार को आई रिपोर्ट में नौ नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें से तीन लोग संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने से कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। संक्रमितों में सात पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं। इन सभी को भर्ती कर इलाज शुरू किया गया है। इसके साथ ही जनपद में कुल संक्रमितों की संख्या 253 हो गई है, जिसमें से दस संक्रमितों की मौत हो चुकी है। 

कुशीनगर जनपद में सोमवार की देर रात आई रिपोर्ट में आठ और कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन संक्रमितों में पुलिसलाइन का एक पुलिसकर्मी भी शामिल है। इनको लेकर जिले में कुल पॉजिटिव केस 131 हो गए हैं, जबकि 56 सक्रिय मामले हैं।

सभी पॉजिटिव मरीजों को एल-1 हॉस्पिटल लक्ष्मीपुर में भर्ती कराया गया है। जिलाधिकारी भूपेंद्र एस चौधरी के मुताबिक नए मामले सामने आने के बाद सम्बन्धित गांवों को सील करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। संक्रमितों में पडरौना ब्लॉक के गोपालपुर व फाजिलनगर क्षेत्र के जौरा गोविंद टोला के तीन-तीन और दुदही के भावपुर खलवापट्टी व पुलिसलाइन के एक- एक मरीज शामिल हैं। इनमें तीन केस पडरौना ब्लॉक के गोपालपुर व एक पुलिसलाइन, तीन फाजिलनगर क्षेत्र के जौरा गोविंद टोला और एक दुदही के भावपुर खलवापट्टी का है।

उन्नाव जनपद में मंगलवार को कोरोना के पांच मरीज और बढ़ गए। संक्रमितों में पुरवा तहसील के गांव तेवरिया में दो, फतेहपुर चौरासी के जैतपुर में दो व सफीपुर कस्बे में एक कोरोना संक्रमित मिला है। इस तरह जिले में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 173 हो गई है। जिले में 68 सक्रिय मामले हैं। पांच मरीजों की कोरोना से मौत हो चुकी है। 100 मरीज ठीक हो चुके हैं। संक्रमितों में 70 प्रवासी हैं।

गोण्डा जनपद में मंगलवार को यहां तैनात नोडल अफसर कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उनको कोविड चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। कोरोना से संक्रमित आईएएस अफसर उन्नाव विकास प्राधिकरण के वीसी के पद पर तैनात हैं। कोरोना संक्रमित की महामारी में जनपद के अंदर बढ़ते ग्राफ को देखते हुए शासन ने नोडल अफसर की तैनाती की है।

इस बीच कोरोना के नये मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को निर्देश दिए हैं कि टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि के लिए प्रयास लगातार जारी रखे जाएं। कोविड अस्पतालों में बेड की संख्या को बढ़ाया जाए। कोविड हेल्प डेस्क में इंफ्रारेड थर्मामीटर एवं पल्स ऑक्सीमीटर की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। 

उन्होंने कहा कि हेल्प डेस्क पर कार्यरत कर्मियों को मास्क, ग्लब्स तथा सेनिटाइजर दिया जाए। कोविड अस्पतालों में भर्ती मरीजों के परिजनों से संवाद बनाकर उन्हें रोगी के स्वास्थ्य की स्थिति से नियमित तौर पर अवगत कराया जाए। उन्होंने सभी अस्पतालों के होल्डिंग एरिया में स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने तथा चिकित्सालयों में व्हील चेयर तथा स्ट्रेचर की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।