हॉकी इंडिया तय करेगा पुरुष और महिला टीमों का नया अभ्यास कार्यक्रम

नई दिल्लीः हॉकी इंडिया ने बुधवार को कहा कि वह टोक्यो ओलंपिक के स्थगन के बाद पुरुष और महिला हॉकी टीम के कोचों के साथ मिल कर दोनों टीमों का नया अभ्यास कार्यक्रम तय करेगा। 

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने कहा, “हमने दोनों टीमों के कोचों को टोक्यो ओलंपिक के स्थगित किये जाने की जानकारी दे दी है। निश्चित तौर पर यह दुर्भाग्यपूर्ण है लेकिन इस खतरनाक महामारी से पूरा विश्व प्रभावित हुआ है। 

उन्होंने कहा कि ओलंपिक के रद्द किये जाने से हमारा उद्देश्य नहीं बदलेगा और ओलंपिक में सफलता हासिल करने के लिए हम भारतीय ओलंपिक संघ और खेल मंत्रालय के साथ मिल कर काम करते रहेंगे। 

बता दें कि जापान और अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने मंगलवार को आपसी विचार विमर्श करने के बाद टोक्यो ओलंपिक को 2021 तक स्थगित करने का फैसला किया था। महिला और पुरुष टीमें फिलहाल बेंगलुरु स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) परिसर में रह रहे हैं जहां उनकी ट्रेनिंग चल रही थी। साई के साथ विचार विमर्श के बाद दोनों टीमों के कोचों के साथ बैठक की जायेगी जिसमें अभ्यास और आगे के कार्यक्रम को लेकर रणनीति बनाई जायेगी।

भारत की दोनों टीमों ने गत वर्ष नवम्बर में ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई कर लिया था। 

भारतीय हॉकी पुरुष टीम के कोच ग्राहम रीड ने कहा,“यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि ओलंपिक का आयोजन 2020 में नहीं होगा लेकिन विश्व में वर्तमान स्थिति को देखते हुए यह अपेक्षित और समझे जाने वाला फैसला है। मुझे उन खिलाड़ियों के लिए बेहद बुरा लग रहा है जिन्होंने चार वर्ष तक लगातार इस मौके का इंतजार किया था। हम खुशकिस्मत है कि साई ने टीम के लिए एक सुरक्षित माहौल बना रखा है जिसमें ट्रेनिंग की जा सकती है। दूसरे देशों की तरह हमारा कोई समय खराब नहीं हुआ है। 

वहीं महिला हॉकी टीम के कोच शुअर्ड मरिने ने कहा, “मैंने टीम के साथ बैठक की और यह ओलंपिक के स्थगन की जानकारी दी। निश्चित तौर पर यह दुर्भाग्यपूर्ण है लेकिन खिलाड़ी इस फैसले से संतुष्ट है। हम ओलंपिक में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे और अब तो हमारे पास समय भी अधिक है।