स्मार्टफोन उद्योग पर नहीं है मंदी का असर

नई दिल्ली: अगर आपको एप्पल के अधिकृत रीसेलर स्टोर के बाहर नया फोन लेने के लिए लोगों की लंबी कतार नजर आती है तो इससे साफ जाहिर होता है कि स्मार्टफोन उद्योग पर आर्थिक मंदी का असर नहीं पड़ा है, बल्कि इस साल की आगामी त्योहारी सीजन में यह रिकॉर्ड बनाने की ओर अग्रसर है। त्योहारी सीजन में एप्पल की बंपर बिक्री हो रही है। साथ ही इसके आईफोन 11 सीरीज, जिसकी कीमत 58,900 से शुरू होती है, देश के उपभोक्ताओं के मध्य उसकी भारी मांग है।

आईफोन 11 की मांग इतनी अधिक है कि 20 सितंबर से शुरू हुए इस प्रीमियम डिवाइस की प्री-बुकिंग के शुरू होने के तीन दिन बाद ही एमेजॉन डॉट इन और फ्लिपकार्ट दोनों से ही इसके स्टॉक खत्म हो गए। वहीं भारत में 27 अक्टूबर यानी की दिवाली से पहले सैमसंग इंडिया ने भी 20 लाख स्मार्टफोन की बिक्री कर 3000 करोड़ रुपये कमाने का लक्ष्य निर्धारित कर रखा है।

चीनी स्मार्टफोन निर्माता वनप्लस ने मंगलवार को घोषणा की कि उसने एमेजॉन ग्रेट इंडियन फेस्टिवल के सेल के दौरान मात्र दो दिनों में 500 करोड़ रुपये की कमाई की है। बीते साल की तुलना में वनप्लस की बिक्री में 100 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि देखी गई है।

इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (आईडीसी) के अनुसार, साल 2019 की दूसरी तिमाही में भारत के स्मार्टफोन बाजार में साल-दर-साल 9.9 प्रतिशत और तिमाही-दर-तिमाही 14.8 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 3.69 करोड़ की शिपमेंट हुई है। साल 2019 के दूसरे तिमाही में 6.93 करोड़ फोन को भारत भेजा गया है, जो कि पिछले तिमाही से 7.6 प्रतिशत अधिक है। शीर्ष पांच ब्रांड्स में शाओमी, सैमसंग, वीवो, ओप्पो और रियल मी शामिल हैं।

शाओमी इंडिया के कैटेगरीज एंड ऑनलाइन सेल के प्रमुख रघु रेड्डी ने बताया कि हम बड़े पैमाने पर आर्थिक मंदी के बारे में सुन रहे हैं। इसके साथ ही हमने साल के पहले छह माह में स्मार्टफोन बाजार में 8-9 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि भी देखी। वहीं इन आंकड़ों के आधार पर हम आने वाले त्योहारी सीजन में भी इसी तरह की वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि लोग बिना स्मार्टफोन के नहीं रह सकते हैं। अगर किसी का फोन खराब हो जाता है तो वह नया फोन लेगा ही।

काउंटरप्वॉइंट की मार्केट मॉनिटर सर्विस के नए शोध के अनुसार, शाओमी ने 2019 के दूसरे तिमाही में ऑनलाइन बाजार का लगभग 46 प्रतिशत कब्जा कर लिया। रेडमी नोट प्रो सीरीज, रेडमी 6ए, रेडमी नोट 6 प्रो और रेडमी गो शओमी के कुल ऑनलाइन बिक्री में दो तिहाई से अधिक के भागीदार हैं।

काउंटरप्वॉइंट रिसर्च के एसोसिएट डायरेक्टर तरुण पाठक ने कहा कि भारत में अपनी पहुंच बनाने के लिए ब्रांड्स के साथ-साथ चैनल्स भी अपने प्लेटफॉर्म/चैनल स्ट्रेटजी में विविधता ला रहे हैं। उदाहरण के तौर पर एमेजॉन को लिया जा सकता है। हाल ही में एमेजॉन ने अपने भारतीय व्यापार 40.4 करोड़ डॉलर का निवेश किया है। साथ ही वह फ्यूचर रिटेल ग्रूप में भी भारी निवेश कर रहा है, ताकि वह भारतीय बाजार में अपने ऑफलाइन पहुंच को दृढ़ कर सके।

टेकआर्क के संस्थापक और प्रमुख विश्लेषक फैजल कावूसा ने बताया कि त्योहारी सीजन के दौरान होने वाले ऑनलाइन बिक्री के वक्त मिलने वाले आकर्षक ऑफर के दौरान हम उम्मीद करते हैं कि 2जी और 3जी स्मार्टफोन के उपयोगकता इस ऑफर का लाभ उठाते हुए नए टेक्नोलॉजी से लैश नए स्मार्टफोन खरीदेंगे।