अमेरिका ने बैन किया चीनी अधिकारियों का वीजा, विरोध में उतरा चीन

बीजिंगः अमेरिका स्थित चीनी दूतावास के प्रवक्ता ने हांगकांग से संबंधित मामले की वजह से अमेरिका द्वारा चीनी अधिकारियों पर लगाए गए वीजा प्रतिबंधों का विरोध किया और जोर देते हुए कहा कि चीन दृढ़ता से देश की प्रभुसत्ता, सुरक्षा और विकास हितों की रक्षा करेगा।

वक्तव्य में कहा गया है कि चीन अमेरिका के गलत व्यवहार का दृढ़ता से विरोध करता है। हांगकांग चीन का हांगकांग है। हांगकांग के मामले विशुद्ध रूप से चीन के आंतरिक मामले हैं, और कोई भी बाहरी ताकत हस्तक्षेप नहीं कर सकती है। राष्ट्रीय सुरक्षा कानून बनाना चीन की केंद्रीय सरकार की जिम्मेदारी है।

हांगकांग से संबंधित राष्ट्रीय सुरक्षा कानून बनाना बहुत कम कार्यो और गतिविधियों को लक्षित करता है जो राष्ट्रीय सुरक्षा को गंभीर रूप से खतरे में डालते हैं, जिससे हांगकांग के पास एक अधिक पूर्ण कानूनी प्रणाली और अधिक स्थिर सामाजिक व्यवस्था होगी।

वक्तव्य में कहा गया है कि हांगकांग पर शासन करने का चीन सरकार का कानूनी आधार चीनी संविधान और हांगकांग का बुनियादी कानून है, न कि 'चीन-ब्रिटेन संयुक्त वक्तव्य।' वक्तव्य में अमेरिका से अपनी गलतियों को तुरंत सुधारने, संबंधित निर्णयों को रद्द करने और चीन के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप रोकने का आग्रह किया है।