आगरा दिलाएगा कोरोना से जीत! होम्योपैथिक दवा से होगा मरीजों का इलाज

नई दिल्लीः चीन के बुहान से फैले कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में आतंक मचा रखा है। इस वायरस से सबसे ज्यादा मौतें सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका में हुईं है। विश्व भर में 135 देश कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में जुटे हैं।

इसी क्रम में भारत सरकार के आयुष मंत्रालय और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च, भारत सरकार-नई दिल्ली ने कोरोना पर जीत हासिल करने के लिए इस रिसर्च करने के लिए कुबेरपुर आगरा स्थित नेमिनाथ होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज को अनुमति दी है।

इसके बाद से ही इस वायरस से संक्रमित मरीजों पर होम्योपैथिक दवाओं का परीक्षण शुरू किया गया। मरीजों को इसकी दवाई देनी भी शुरू कर दी गई है। 

इसके बारे में जानकारी देते हुए नेमिनाथ कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर प्रदीप गुप्ता ने कहा कि भारत भर में केवल नेमिनाथ कॉलेज को ही इस तरह की अनुमति मिली है। हमने आयुष मंत्रालय और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के निर्देशानुसार कोरोना के मरीजों का इलाज करने के लिए दवाएं बना ली हैं।

इन दवाओं की अनुमति भी हमें इंडियन काउंसिल मेडिकल रिसर्च से मिल चुकी है। प्राचार्य ने बताया कि एत्मादपुर स्थित कोविड-19 के हॉस्पिटल एफएच मेडिकल कॉलेज में भर्ती कोरोना के मरीजों पर इनका परीक्षण किया जा रहा है।

कुल 200 मरीजों पर यह परीक्षण किया जाएगा। यदि इलाज के बाद सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आती है तो दुनिया भर में सभी मरीजों का उपचार इसी तरीके से किया जाएगा।