दिल्ली में हिंसा के बीच केजरीवाल का बड़ा बयान, प्रदर्शनकारियों को लेकर कही ये बात

नई दिल्ली: नागरिकता कानून के विरोध में दिल्ली में प्रदर्शन हिंसक हो गया है और इस हिंसा में 20 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। इस पर  दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल  ने कहा कि ये स्थिति काफी चिंताजनक है। 

पुलिस हर संभव प्रभाव के बावजूद स्थिति को संभालने में नाकाम रही है। सीएम केजरीवाल ने कहा है कि इस स्थिति से निबटने के लिए आर्मी की सहायता लेनी चाहिये और दंगा प्रभावित इलाकों में कर्फ्यू लगा देना चाहिए। उन्होंने जानकारी दी कि वो एक लेटर होम मिनिस्टर को भी लिख चुके हैं।

गुरू तेग बहादुर हॉस्पिटल के मेडिकल सुप्रीटेंडेंट सुनील कुमार गौतम ने जानकारी दी कि 189 लोग जो कि हॉस्पिटल लाए गए थे उनमें से 20 लोगों की मौत हो चुकी है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सीएए को लेकर हो रही हिंसाओं में बीते दिन यानी कि 25 फरवरी को 13 लोगों के मौत की खबर थी जबकि यही आंकड़ा 26 फरवरी को बढ़कर 20 तक पहुंच गई।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली सहित नोएडा के कई इलाकों में बीती रात कई हिंसक घटनाएं हुई। इसके चलते आज तड़के सुबह सीएम केजरीवाल के घर के सामने भी कुछ लोग जुट कर राजधानी दिल्ली में शांति व्यस्था बहाल करने की मांग कर रहे थे। हालांकि पुलिस ने उन्हें वहां से खदेड़ दिया।