नड्डा बोले- मनमोहन उसी दल के नेता हैं जिन्होंने बिना लड़े जमीन सरेंडर कर दी थी

नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जेपी नड्डा ने चीन-भारत विवाद पर पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए कहा कि वह उसी दल के नेता हैं जिसकी सरकार के दौरान बिना लड़े ही भारतीय जमीन सरेंडर कर दी गई। उन्होंने डॉ. सिंह के बयान को महज शब्दों का खेल करार दिया।

नड्डा ने सोमवार को पूर्व प्रधानमंत्री के बयान पर पलटवार करते हुए एक के बाद एक कई ट्वीट किये। उन्होंने कहा 'डॉ. मनमोहन सिंह उसी दल से ताल्लुक रखते हैं, जिसने 43000 किलोमीटर भारतीय हिस्सा चीन के सामने सरेंडर किया है। यूपीए सरकार के दौरान निकृष्ट रणनीति देखी गई और बिना लड़े जमीन सरेंडर कर दी गई।' उन्होंने कहा कि समय फिर से हमारी सेनाओं पर भरोसा करता है।

मनमोहन सिंह ने अपने लिखित बयान में चीन विवाद पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को नसीहत देते हुए कहा है कि झूठ के आडंबर से सच छुपाया नहीं जा सकता। डॉ. सिंह ने अपने बयान में प्रधानमंत्री पर निशाना साधा। नड्डा ने पूर्व प्रधानमंत्री की टिप्पणी पर जवाब देते हुए आगे कहा कि ये शब्दों का खेल है और कोई भारतीय इस पर यकीन नहीं करेगा। नड्डा ने कहा कि ये वही कांग्रेस है जिसने हमेशा हमारे सुरक्षाबलों पर सवाल किए हैं और उन्हें हतोत्साहित किया।

उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि डॉ. मनमोहन सिंह उसी पार्टी से ताल्लुक रखते हैं, जिसने 43000 किलोमीटर भारतीय हिस्सा चीन के सामने सरेंडर किया है। पूर्व की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के दौरान लचर रणनीति देखी गई है और बिना लड़े जमीन सरेंडर कर दी गई।भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि भारत की जनता पूरी तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विश्वास और समर्थन करती है। 130 करोड़ भारतीयों ने परीक्षा की घड़ी में पीएम मोदी के नेतृत्व को देखा है, उन्होंने हमेशा राष्ट्र को सबसे ऊपर रखा है।