राज्यसभा में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी ये पार्टी, पहली बार आंकड़ा 100 के पार

नई दिल्ली: देश के 8 राज्यों की 19 सीटों पर हुए राज्यसभा चुनाव के बाद राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) 8 सीटें जीतकर सबसे बड़े दल के रूप में उभरा है। अब राजग की संख्या 100 के पार हो गई है। हालांकि बहुमत से अभी भी वह 22 कदम दूर है। राज्यसभा में बहुमत के लिए 123 वोटों की जरूरत होती है। राजग के पास 101 सीटें हैं, जबकि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की अब 65 सीटें बची हैं।

राज्यसभा में राजग के 101 सदस्यों में अकेले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 86 सांसद हैं। गुजरात में सत्तारूढ़ भाजपा ने तीन सीटें (नरहरी अमीन, अभय भारद्वाज और रामिलाबेन बारा) और कांग्रेस ने एक (शक्ति सिंह गोहिल) सीट जीती है। मार्च के बाद 8 विधायकों के इस्तीफे की वजह से कांग्रेस के पास दूसरी सीट जीतने का मौका हाथ से निकल गया। साथ ही राजस्थान में कांग्रेस ने भाजपा की एक अतिरिक्त सीट जीतने की कोशिश को विफल कर दिया।

राजस्थान से कांग्रेस के उम्मीदवार के.सी. वेणुगोपाल और नीरज डांगी को जीत मिली तो भाजपा के राजेंद्र गहलोत को जीत हासिल हुई। राज्य में भाजपा ने दूसरा उम्मीदवार भी उतारा था, लेकिन उसे हार का सामना करना पड़ा। इसके अलावा मध्य प्रदेश के चुनाव में मार्च महीने में भाजपा में शामिल हुए सिंधिया को जीत मिली। सिंधिया के अलावा भाजपा के सुमेर सिंह सोलंकी ने भी जीत हासिल की। वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह कांग्रेस की ओर से राज्यसभा जाने में सफल रहे। झारखंड में पूर्व मुख्यमंत्री शिबू सोरेन और भाजपा के दीपक प्रकाश ने अपनी-अपनी सीट पर जीत हासिल कर ली। 

इसके अलावा आंध्र प्रदेश में राज्यसभा की सभी चारों सीटों पर वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवारों को जीत हासिल हुई है। विजेताओं में परिमल नाथवानी का नाम भी शामिल है।मणिपुर में जहां हाल ही में 9 विधायकों ने एन बिरेन सिंह की सरकार से समर्थन वापस ले लिया था, वहां पर बीजेपी ने सबको हैरान करते हुए राज्य की एक मात्र राज्यसभा सीट पर जीत हासिल कर ली है।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने ट्वीट कर इस बात की घोषणा की है कि भाजपा ने मणिपुर में 28 वोटों के साथ राज्यसभा की एकमात्र सीट पर कब्जा जमा लिया है। यहां कांग्रेस उम्मीदवार को सिर्फ 24 वोट मिले। मिजोरम की एकमात्र राज्यसभा सीट के लिए हुई वोटिंग में सत्ताधारी मिजो नेशनल फ्रंट एमएनएफ के उम्मीदवार के वनलालवेना को जीत हासिल हुई है। चुनाव आयोग ने वनलालवेना को निर्वाचित घोषित किया है। इस चुनाव में सबसे पहले मेघालय से चुनाव परिणाम सामने आए। वहां नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) ने राज्यसभा सीट पर जीत हासिल की है।

कुल मिलाकर शुक्रवार को मध्य प्रदेश की 3, गुजरात की 4, राजस्थान की 3, आंध्र प्रदेश की 4, झारखंड की 2 सीटों पर वोटिंग हुई। इसके अलावा पूर्वोत्तर के मणिपुर, मेघालय और मिजोरम की एक-एक राज्यसभा सीटों पर भी वोटिंग हुई। इस चुनाव में  भाजपा ने कुल 8 सीटों पर विजयश्री हासिल की है।