विहिप ने लोगों से कहा- घर पर मनाएं हुनमान जयंती

नई दिल्लीः देशव्यापी लॉकडाउन के बीच विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने लोगों से हनुमान चालीसा का 11 बार पाठकर अपने-अपने घरों में ही बुधवार को हनुमान जयंती मनाने की अपील की है। विहिप के महामंत्री मिलिंद परांडे ने मंगलवार को जारी विज्ञप्ति में कहा कि वर्ष प्रतिपदा से चैत्र पूर्णिमा (हनुमान जयंती) तक देश के प्रत्येक गांव में रामोत्सव मनाने का निर्णय लिया गया था।

लेकिन कोरोना महामारी के कारण हनुमान जयंती का उत्सव भी अब अपने-अपने परिवारों में ही मनाना है। देशभर में बुधवार (08 अप्रैल) को सुबह सूर्योदय के समय परिवार के सभी सदस्य निश्चित दूरी पर बैठकर 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ कर हनुमान जी की आरती करें एवं प्रसाद ग्रहण करें। 

परांडे ने अपील की कि सरकारी निर्देशों का पालन करते हुए देशभर में अधिक से अधिक गांवों में तथा अधिक से अधिक परिवारों में हनुमान जयंती का कार्यक्रम मनाएं। उन्होंने कहा कि हम बजरंग दल के आराध्य बजरंग बली की जयंती को बलोपासना दिवस के रूप में प्रतिवर्ष मनाते आये हैं।

श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन के दौरान बजरंग दल और दुर्गावाहिनी की स्थापना हुई थी। अयोध्या में जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के साथ ही आंदोलन पूर्ण होगा। हनुमत शक्ति के जागरण से ही यह कार्य सफल हो रहा है।